ग्राफ़िक डिज़ाइनर कैसे बने (2024) Step by Step Guide

ग्राफिक डिजाइन एक तरह की आर्ट है, जिसमें टेक्स्ट और ग्राफिक की मदद से मेसेज इफेक्टिव बनाया जाता है। मेसेज ग्राफिक्स, लोगो, ब्रोशर, न्यूज लेटर, पोस्टर या फिर किसी भी रूप में हो सकता है।

अगर आप क्रिएटिव हैं और नया करते रहना अच्छा लगता है, तो ग्राफिक डिजाइनिंग आपके लिए एक अच्छा करियर ऑप्शन हो सकता है।

ग्राफिक डिजाइन का क्या काम होता है?ग्राफ़िक डिज़ाइन क्या होता है? 12 वीं के बाद ग्राफिक डिजाइनर कैसे बने?ग्राफिक डिजाइनर की सैलरी कितनी होती है?ग्राफिक डिजाइनिंग में कौन कौन से कोर्स होते हैं? नंबर 1 ग्राफिक डिजाइनर कौन है? ये सभी प्रश्नों का उतर बिस्तर से जानेंगे। 

Table of Contents

ग्राफ़िक डिज़ाइन क्या होता है?

ग्राफिक डिजाइनिंग का मतलब होता है कि आप टेक्सट और फोटो को एक साथ मिलाकर कुछ ऐसा बनाएं जिससे आपका दिया हुआ मैसेज ज्यादा इफेक्टिव लगे. यह एक तरह की कला है, जिसे आप तभी बेहतर तरीके से कर पाएंगे जब आपके अंदर कुछ अलग करने की चाह होगी।

ग्राफिक डिजाइन जो दर्शकों के साथ संदेशों द्वारा संचार करने में मदद करती है। दृश्य संचार की कला (art of visual communication) बहुत ही जरूरी है, विशेष रूप से उन ब्रांडों के लिए जो अपने लक्षित दर्शकों से जुड़ना चाहते हैं, और ग्राफिक डिजाइन इसका सही समाधान है।

ग्राफ़िक डिज़ाइनर की जॉब प्रोफाइल्स और सैलरी

ग्राफिक डिजाइन में करियर उन लोगों के लिए एक बेहद ही शानदार विकल्प है जो रचनात्मक हैं और डिजाइन के प्रति जुनून रखते हैं।

भारत में मुंबई, दिल्ली और हैदराबाद जैसे प्रमुख शहरों में एक ग्राफिक डिजाइनरस बहुत मांग हैं

अगर बात करें भारत से बाहर की देशों में सबसे ज्यादा मांग संयुक्त राज्य अमेरिका में ग्राफिक डिजाइनरों की दुनिया में सबसे अधिक मांग है, क्योंकि देश तेजी से मल्टीमीडिया क्षेत्र में अग्रणी बन रहा है। संयुक्त राज्य अमेरिका में एनिमेटरों, वेब डिज़ाइनरों और यूएक्स डिज़ाइनरों की भी मांग है।

 ग्राफ़िक डिज़ाइनरों के लिए स्विट्ज़रलैंड में सबसे अधिक भुगतान मिलता है।

ग्राफ़िक डिज़ाइनर कैसे बनें? स्टेप बाय स्टेप गाइड

ग्राफ़िक डिज़ाइन का कार्य आजकल बहुत प्रसिद्ध हो चुका है। यह एक क्रियाशील क्षेत्र है जो कि आपको क्रिएटिव और अर्टिस्टिक होने का मौका देता है। ग्राफ़िक डिज़ाइन फिल्ड में करियर बनाने के लिए आपको कुछ खास कौशल सीखने की आवश्यकता होती है। इस लेख में, हम आपको बताएंगे कि ग्राफ़िक डिज़ाइनर कैसे बनें 12वीं के बाद, आप ग्राफिक डिजाइनिंग में सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स करके इस क्षेत्र में करियर बना सकते हैं। यहां सर्टिफिकेट कोर्स से लेकर बैचलर और पीएचडी कोर्स तक कई विकल्प उपलब्ध हैं।

Step–1 ग्राफ़िक डिज़ाइन के सिद्धांत सीखें

डिज़ाइन के 12 बुनियादी सिद्धांत हैं: कंट्रास्ट, संतुलन, जोर, अनुपात, पदानुक्रम, दोहराव, लय, पैटर्न, सफेद स्थान, गति, विविधता और एकता। ये दृश्य और ग्राफिक डिज़ाइन सिद्धांत आकर्षक और कार्यात्मक डिज़ाइन बनाने के लिए मिलकर काम करते हैं जो user को समझ आते हैं।

Step–2 ग्राफ़िक डिजाइनिंग कोर्स चुनें

निमलिखित ग्राफिक डिजाइन कोर्स में से कोई कोर्स जो आपको अच्छा लगे उसे सीख सकते हैं l

  1. ग्राफिक डिजाइन में डिप्लोमा
  2. ग्राफिक डिजाइन और इंटरैक्टिव मीडिया डिप्लोमा
  3. ग्राफिक डिजाइन में उन्नत डिप्लोमा
  4. ग्राफिक्स डिजाइन और डेस्कटॉप प्रकाशन में कार्यकारी डिप्लोमा
  5. ग्राफिक डिजाइन में सर्टिफिकेट एंड विज़ुअल डिज़ाइ
  6. सर्टिफिकेट कोर्स इन ग्राफिक डिजाइनिंग
  7. सर्टिफिकेट प्रोग्राम इन ग्राफिक डिजाइन
  8. सर्टिफिकेट इन ग्राफिक डिजाइन
  9. सर्टिफिकेट कोर्स इन ग्राफिक डिजाइनिंग

Step–3 ग्राफ़िक डिज़ाइन टूल के बारे में सीखें

ग्राफ़िक डिज़ाइन टूल क्या हैं?

यह कई प्रकार की सुविधाएँ और उपकरण प्रदान करता है जो डिजाइनरों को वेब और प्रिंट के लिए वेक्टर ग्राफिक्स, चित्र और लेआउट बनाने की अनुमति देते हैं। ई

ग्राफिक डिजाइन के दो मुख्य सॉफ़्टवेयर Photoshop और Illustrator हैं।

Step–4 प्रैक्टिस करें और अपनी स्किल्स में सुधार करें

ग्राफिक डिजाइन प्रोजेक्ट्स कैसे बनाएं, शेयर करें और सुधारें:

  • प्रोजेक्ट्स कैसे बनाएं: आपको अपनी पसंद के अनुसार कोई विषय, थीम या ब्रीफ चुनना होगा। फिर आपको रिसर्च, ब्रेनस्टॉर्मिंग, स्केचिंग, प्रोटोटाइपिंग और रिफाइनिंग करना होगा। आप लोगो, पोस्टर, इन्फोग्राफिक, वेबसाइट या पैकेजिंग जैसे विभिन्न प्रोजेक्ट्स बना सकते हैं।
  • प्रोजेक्ट्स कैसे शेयर करें: आपको अपने प्रोजेक्ट्स को एक पोर्टफोलियो में दिखाना होगा। आप ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स जैसे DribbbleBehance, or Instagram  का उपयोग कर सकते हैं। आप अपनी वेबसाइट या ब्लॉग पर भी अपने प्रोजेक्ट्स को शेयर कर सकते हैं। आप प्रतियोगिताओं, प्रदर्शनों या इवेंट्स में भी अपने प्रोजेक्ट्स को प्रस्तुत कर सकते हैं।
  • प्रोजेक्ट्स पर फीडबैक कैसे पाएं: आपको अपने प्रोजेक्ट्स पर फीडबैक लेना जरूरी है। आप अपने साथियों, मेंटर्स, क्लाइंट्स या यूजर्स से फीडबैक प्राप्त कर सकते हैं। आप ऑनलाइन टूल्स जैसे [InVision], [Miro] या [Figma] का उपयोग कर सकते हैं। आप फीडबैक मांगते समय अपने प्रोजेक्ट का लक्ष्य, संदर्भ, प्रकार और दायरा बताएं।
  • ग्राफिक डिजाइन कौशल कैसे विकसित करें: आपको अपने ग्राफिक डिजाइन कौशल को विकसित करने के लिए अभ्यास, सीखना और प्रयोग करना होगा। आप ऑनलाइन कोर्सेज या क्लासेज ले सकते हैं। आप ग्राफिक डिजाइन की किताबें, ब्लॉग्स, मैगज़ीन्स या न्यूज़लेटर्स पढ़ सकते हैं। आप अपने कौशल को प्रैक्टिस करने के लिए पर्सनल या प्रोफेशनल प्रोजेक्ट्स, चैलेंजेज या एक्सरसाइजेज कर सकते हैं। आप अन्य डिजाइनरों से फीडबैक और समीक्षा ले सकते हैं। आप अलग-अलग शैलियों, टूल्स और मीडियम्स के साथ प्रयोग कर सकते हैं।

Step–5 पोर्टफोलियो बनाएं

ग्राफिक डिज़ाइन पोर्टफोलियो आपके काम का एक दृश्य संग्रह है, जो दर्शाता है कि आपने अब तक क्या हासिल किया है और आप भविष्य में क्या हासिल करने की उम्मीद करते हैं। एक ग्राफिक डिजाइनर के रूप में, संभावित ग्राहकों (विशेषकर एक फ्रीलांस ग्राफिक डिजाइनर के रूप में) के सामने अपनी प्रतिभा प्रदर्शित करने के लिए एक पोर्टफोलियो महत्वपूर्ण है।

ग्राफिक डिजाइन 2024 कैसे सीखें?

साल 2024 में ग्राफिक डिजाइन सिखने के लिए कही जाने की जरूरत नहीं है।

आप घर बैठकर ऑनलाइन फ्री  सिख सकते हैं।

उसके लिए आपके पास एक स्मार्ट फोन या लैपटॉप होना चाहिए। 

2024 में ग्राफिक डिजाइन सिखने के लिए ऐसे बहुत से फ्री और पैड website उपलब हैं।

ग्राफ़िक डिज़ाइनिंग सीखने के लिए बेस्ट वेबसाइटें

ऐसी कई वेबसाइटें हैं जो मुफ़्त और सशुल्क दोनों तरह से ऑनलाइन ग्राफ़िक डिज़ाइन पाठ्यक्रम प्रदान करती हैं।

ऑनलाइन ग्राफिक डिज़ाइन सीखने के लिए ये कुछ बेहतरीन वेबसाइटें हैं।

  • Coursera: कौरसेरा एक ऐसा मंच है जो शीर्ष विश्वविद्यालयों और संस्थानों से विभिन्न प्रकार के ग्राफिक डिजाइन पाठ्यक्रम और विशेषज्ञता प्रदान करता है। आप ग्राफ़िक डिज़ाइन, टाइपोग्राफी, ब्रांडिंग, लोगो डिज़ाइन और बहुत कुछ की बुनियादी बातें सीख सकते हैं। आप कौरसेरा से ग्राफिक डिजाइन में सर्टिफिकेट और डिग्री भी हासिल कर सकते हैं।
  • Udemy: उडेमी एक बाज़ार है जो विभिन्न विषयों और स्तरों पर हजारों ग्राफिक डिज़ाइन पाठ्यक्रम प्रदान करता है। आप फ़ोटोशॉप, इलस्ट्रेटर, इनडिज़ाइन, कैनवा और अन्य टूल से ग्राफिक डिज़ाइन सीख सकते हैं। आप उडेमी से ग्राफिक डिज़ाइन सिद्धांत, इतिहास और अभ्यास भी सीख सकते हैं।
  • Skillshare: स्किलशेयर एक समुदाय है जो शुरुआती और विशेषज्ञों के लिए सैकड़ों ग्राफिक डिज़ाइन कक्षाएं प्रदान करता है। आप पेशेवरों और साथियों से ग्राफिक डिज़ाइन कौशल सीख सकते हैं, और वास्तविक दुनिया की परियोजनाओं पर काम कर सकते हैं। आप स्किलशेयर से ग्राफिक डिज़ाइन पर लाइव सत्र और कार्यशालाओं में भी शामिल हो सकते हैं।
  • CreativeLive: क्रिएटिवलाइव एक ऐसा मंच है जो विशेषज्ञों और प्रभावशाली लोगों से लाइव और ऑन-डिमांड ग्राफिक डिजाइन कक्षाएं प्रदान करता है। आप क्रिएटिवलाइव से ग्राफिक डिज़ाइन के बुनियादी सिद्धांत, तकनीक और रुझान सीख सकते हैं। आप CreativeLive से ग्राफ़िक डिज़ाइन संसाधनों और टूल की लाइब्रेरी तक भी पहुंच सकते हैं।
  • Canva: कैनवा एक उपकरण है जो आपको आसानी से और जल्दी से आश्चर्यजनक ग्राफिक डिज़ाइन बनाने की अनुमति देता है। आप कैनवा के डिज़ाइन स्कूल से ग्राफिक डिज़ाइन की मूल बातें, टिप्स और ट्रिक्स भी सीख सकते हैं। आप कैनवा से ग्राफ़िक डिज़ाइन पर सैकड़ों ट्यूटोरियल, वीडियो और लेख एक्सेस कर सकते हैं।

ग्राफ़िक डिज़ाइनिंग सीखने के लिए बेस्ट यूट्यूब चैनल

ग्राफिक डिजाइनर बनने के लिए आपको विभिन्न सॉफ्टवेयर और तकनीकों का ज्ञान होना चाहिए। यूट्यूब पर कई चैनल हैं जो ग्राफिक डिजाइन को हिंदी में सिखाते हैं। इनमें से कुछ सर्वश्रेष्ठ चैनल हैं:

  • GFX MENTOR: इस चैनल पर आपको ग्राफिक डिजाइन के मूल बातें सिखाई जाती हैं। आपको Adobe Photoshop, Illustrator, InDesign, XD, आदि का उपयोग करना सिखाया जाता है।
  • Nikhil Pawar: इस चैनल पर आपको ग्राफिक डिजाइन के ट्रेंडी और आकर्षक पोस्टर और बैनर बनाना सिखाया जाता है। आपको ग्राफिक डिजाइन से पैसा कमाने के तरीके भी बताए जाते हैं।
  • Rajeev Mehta: इस चैनल पर आपको ग्राफिक डिजाइन के पेशेवर और उद्योगी तरीके सिखाए जाते हैं। आपको ग्राफिक डिजाइन के नए अपडेट, तकनीकों और मानकों का ज्ञान दिया जाता है।
  • Graphic Design Hindi Me: इस चैनल पर आपको ग्राफिक डिजाइन के विभिन्न पहलुओं को समझाने वाले वीडियो मिलते हैं। आपको ग्राफिक डिजाइन के कैरियर, फ्रीलांसिंग, टूल्स, टिप्स और ट्रिक्स के बारे में जानकारी मिलती है।

इन चैनलों को सब्सक्राइब करके अपने ग्राफिक डिजाइन के कौशल को बेहतर बना सकते हैं।

शैक्षणिक योग्यता | Educational Qualification

इसके लिए मिनिमम क्वालिफिकेशन की बात करे तो 12th पास होना जरूरी होता है। हर कॉलेज और यूनिवर्सिटी में एडमिशन पाने के लिए कुछ योग्यता होती है जो छात्रों को पूरे करने होते है। अगर आप ग्राफिक डिजाइन में बैचलर डिग्री करना चाहते है तब आपको मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12th में प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण होना जरूरी होगा। एडमिशन के लिए कुछ कॉलेज और यूनिवर्सिटी एंट्रेंस एग्जाम भी लेती है। जिसके आधार पर एडमिशन होता है। वही अगर आप ग्राफिक डिजाइन का मास्टर डिग्री करना चाहते है तब आपको बैचलर डिग्री भी प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण होना होगा।

इसके अलावा भी आप अलग से भी ग्राफिक डिजाइन कोर्स कर सकते हैं बहुत से ऐसे कोर्स

हैं जिसमे मिनिमम क्वालिफिकेशन 10th पास होती हैं।

आवश्यक कौशल | Required Skills

ग्राफिक डिजाइनर बनने के लिए आपको निम्नलिखित कौशल का होना आवश्यक होता है:

  • Creativity: ग्राफिक डिजाइन में सफल होने के लिए आपको क्रिएटिव सोचने की क्षमता होनी चाहिए। आपको नए और अनोखे आइडियाओं को सोचने और प्रस्तुत करने की क्षमता होनी चाहिए।
  • Computer Proficiency: आपको ग्राफिक डिजाइन सॉफ्टवेयर और टूल्स का ज्ञान होना चाहिए, जैसे Adobe Photoshop, Illustrator, InDesign, CorelDRAW, आदि। इन टूल्स का प्रयोग करके आप अपने डिजाइन को बना सकते हैं और संपादित कर सकते हैं।
  • Communication Skills: आपको अपने क्लाइंटों, सहयोगियों और प्रबंधकों के साथ अच्छी तरह से संवाद करना आना चाहिए। आपको अपने डिजाइन के उद्देश्य, प्रक्रिया और परिणाम को स्पष्ट रूप से समझाना आना चाहिए।
  • Time Management Skills: आपको अपने कार्य को समय पर पूरा करने के लिए अपने समय का सदुपयोग करना आना चाहिए। आपको अपने प्रोजेक्ट्स को प्राथमिकता देना और अपने डेडलाइन्स का पालन करना आना चाहिए।

ये कुछ मुख्य कौशल हैं जो एक ग्राफिक डिजाइनर के लिए आवश्यक हैं। इनके अलावा, आपको अपने क्षेत्र में नवीनतम ट्रेंड्स, तकनीकों और उद्योग के मानकों का भी ज्ञान रखना चाहिए।

ग्राफिक डिजाइन के प्रकार

  • ग्राफिक डिजाइनर
  • इलस्ट्रेटर
  • आर्टवर्क
  • एनिमेटर्स
  • आर्ट डायरेक्टर

ग्राफिक डिजाइनर की सैलरी, कमाई

भारत में ग्राफ़िक डिजाइनर की एवरेज महीना की सैलरी की बात करें तो वह करीब 30-40 हजार रुपये है और वार्षिक वेतन की बात करे तो ₹90,000 और ₹5,25,000 के बीच हैं। 

Graphic Designing कहां से सीखे ?

ऐसे तो आप ग्राफिक डिजाइनिंग कहीं से भी कर सकते हैं. लेकिन अगर आप ये कोर्स भारत के अच्छे संस्थानों से करेंगे तो आपको वहां और बेहतर सीखने को मिलेगा. यहां हम आपको कुछ अच्छे इंस्टिट्यूट बता रहे हैं, जहां से आप ये कोर्स कर सकते हैं. नैशनल इंस्टिट्यूट ऑफ डिजाइन, अहमदाबाद .

ग्राफ़िक डिज़ाइन के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

  1. National Institute of Design Ahmedabad
  2. Pearl Academy, Mumbai 
  3. Srishti Manipal Institute of Art, Design and Technology, Bangalore
  4. MIT Institute of Design, Pune

ग्राफिक डिजाइन Software

  1. Adobe Illustrator
  2. Adobe Photoshop
  3. CorelDraw Graphics Suite
  4. Adobe InDesign
  5. GIMP
  6. Affinity Designer
  7. Affinity Photo
  8. Pixlr.

ग्राफ़िक डिज़ाइन कोर्स

1.ग्राफिक डिजाइन में डिप्लोमा

 यह कोर्स दो साल का है, इसमें ग्राफ़िक्स का बेसिक और एडवांस कोर्स का प्रशिक्षण दिया जाता है.

2. ग्राफिक डिजाइन और इंटरैक्टिव मीडिया डिप्लोमा

  इसकी अवधि एक साल है .इसमें मीडिया से संबंधित ग्राफिक आर्ट की ट्रेनिंग दी जाती है .

3. ग्राफिक डिजाइन में उन्नत डिप्लोमा

कोर्स की अवधि दो साल है. इसमें पैकिंग,पैकेजिंग और मल्टीमीडिया की विशेषज्ञता सिखाई जाती है.

4.ग्राफिक्स डिजाइन और डेस्कटॉप प्रकाशन में कार्यकारी डिप्लोमा

इसकी अवधि एक साल है  इस कोर्स के तहत डेस्कटॉप पब्लिशिंग से संबंधित जानकारी दी जाती है.

5. ग्राफिक डिजाइन में सर्टिफिकेट एंड विज़ुअल डिज़ाइन

छह महीने से एक साल के इस कोर्स में विजुअलाइजर की ट्रेनिंग दी जाती है.

6. सर्टिफिकेट कोर्स इन ग्राफिक डिजाइनिंग

इस कोर्स की अवधि 10 महीने है, जरूरी योग्यता 10वीं पास है और इसकी फीस 1,75,000 है.

7.सर्टिफिकेट प्रोग्राम इन ग्राफिक डिजाइन 

इसकी अवधि 3 – 6 महीने है. कोर्स के लिए योग्यता 10वीं  पास रखी गई है. कोर्स की फीस 45,000 है.

8. सर्टिफिकेट इन ग्राफिक डिजाइन

इस कोर्स की अवधि 6 महीने है. कोर्स की योग्यता 10वीं पास रखी गई है. कोर्स की फीस  80,000 है.

9.सर्टिफिकेट कोर्स इन ग्राफिक डिजाइनिंग

इस कोर्स की अवधि 6 महीने है. कोर्स के लिए योग्यता प्रतिभागी 10वीं पास होना चाहिए. फीस लगभग 65,000 है

ऑनलाइन FREE कोर्सेज

ऊपर मेंशन किए हुए सभी ग्राफिक software को फ्री में सीखने के लिए सबसे बेस्ट प्लेटेफ्रान Youtube हैं

इसके अलावा भी कुछ प्लेटफार्म हैं जो फ्री में ग्राफिक डिजाइन सिखाती हैं। 

  1. UDEMY
  2. EDX 
  3. Coursera 

FAQs

Q: 12 वीं के बाद ग्राफिक डिजाइनर कैसे बने?

 A: 12वीं के बाद, आप ग्राफिक डिजाइनिंग में सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स करके इस क्षेत्र में करियर बना सकते हैं।

Q: ग्राफिक डिजाइनर कितने साल का कोर्स है?

A: ग्राफिक डिजाइन 3 महिनें से लेकर 1 साल, 2 साल और तीन साल तक हो सकती है।

Q: ग्राफिक डिजाइनिंग की फीस कितनी होती है?

A: ग्राफिक डिजाइन की फीस उसके कोर्स के ऊपर निर्भर हैं। यदि आप कम समय का कोर्स लेते है तो कम फीस लगेगा।

Q: ग्राफिक डिजाइनर बनने के लिए क्या करना पड़ता है?

A: 12वीं के बाद, आप ग्राफिक डिजाइनिंग में सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स करके इस क्षेत्र में करियर बना सकते हैं। 

Q: क्या मैं बिना डिग्री के ग्राफिक डिजाइनर बन सकता हूं?

A: हां, 10वी के बाद बहुत सा ऐसा ग्राफिक डिजाइन का कोर्स जिसे आप कर सकते है।

Q: ग्राफिक डिजाइनर में क्या काम करते हैं?

A: अपनी क्रिएटिविटी और डिजाइन स्किल का उपयोग करके विभिन्न विषयों के लिए विजुअल्स तैयार करते हैं। लोगो, ब्रांड इडेंटिटी, वेबसाइट डिजाइन, एप्लीकेशन डिजाइन, फोटोग्राफी, वीडियो एडिटिंग, अनुसंधान और टेक्स्ट लेआउट आदि ।

Q: क्या मैं 6 महीने में ग्राफिक डिजाइन सीख सकता हूं?

A: हां, आप 6 महीने में ग्राफिक डिजाइन सीख सकते हैं, अगर आप इसके लिए उत्साही और लगनशील हैं।

Q: ग्राफिक डिजाइन के लिए कौन सा ग्रेजुएशन बेस्ट है?

A: ग्राफिक डिजाइन के लिए B.A और M.A ग्रेजुएशन बेस्ट हैं।

Q: ग्राफिक डिजाइन सीखने में कितना समय लगता है?

A: ग्राफिक डिजाइन सीखने में लगभग आपको 6 महीना का समय देना होगा लेकिन आपको बेस्ट ग्राफिक डिजाइनर बनने के लिए लगभग 3 साल का समय देना होगा।

Q: ग्राफिक डिजाइन में करियर कैसा दिखता है?

A: कला, प्रौद्योगिकी और संचार को संयोजित करने का एक रोमांचक तरीका हो सकता है। विपणन और विज्ञापन, प्रकाशन, स्वास्थ्य देखभाल और डिजिटल संचार सहित विभिन्न क्षेत्रों में कई परियोजनाओं पर इन पेशेवरों की आवश्यकता होती है।

Leave a Comment